Ram Janki Medical College Samastipur

Pankaj Thakur
0
ram janki medical college samastipur
Ram Janki Medical College
Ram Janki Medical College:- समस्तीपुर जिले के नारघोघी में बन रहा श्री राम जानकी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में पहुंच चुका हैं। 29 अप्रैल तक हर हाल में निर्माण कार्य को पूर्ण कर लिया जाना हैं। इसके लिए अतिरिक्त मैनपावर को लगाया जा रहा हैं। उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के द्वारा इस कार्य को युद्ध स्तर पर पूर्ण करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है, ताकि 30 अप्रैल के आसपास इसका उद्घाटन किया जा सके।

बता दें कि 500 बेड की क्षमता के साथ यह मेडिकल कॉलेज और अस्पताल शुरू होगा। भविष्य में होने वाले विस्तार और विकास को ध्यान में रखकर इसकी रूपरेखा तैयार की गई है। जमीन की कमी नहीं है, इसलिए जरूरत के अनुरूप नई चीजों को भी जोड़ा गया है। पहले ऑडिटोरियम और पार्किंग की व्यवस्था नहीं थी, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने निरीछन  के बाद जोरवाया। इसके लिए रामजानकी मठ की अतिरिक्त जमीन ली गई है। 

यह पीएमसीएच के बाद बिहार का सबसे बड़ा अस्पताल बनने जा रहा है। इसलिए इसकी व्यवस्था भी उसी के अनुरूप की जा रही है। 29 अप्रैल तक यह मेडिकल कॉलेज और अस्पताल बनकर तैयार हो जाएगा। इसके लिए कार्य तेजी से चल रहा है। मैनपावर को बढ़ाया गया है। 

 मेडिकल छात्रों के लिए होगी 100 सीट (Narghoghi Medical College)

Ram Janki Medical College:- श्री राम जानकी मेडिकल कॉलेज में छात्रों के लिए तत्काल 100 सीट होगी। इसके लिए 320 बेड का बालक छात्रावास, 160 बेड का बालिका छात्रावास, महिलाओं और पुरुषों के लिए 40 एवं 60 बेड  का इंटर्न हॉस्टल और 100 बेड का नर्सेज हॉस्टल भी बनाया जा रहा है। चिकित्सकों के लिए 75 यूनिट आवास, एमएस और डीन के लिए दो यूनिट और अन्य के लिए 24 यूनिट फ्लैट बनाये जा रहे है। मरीजों के शवजन के लिए भी 100 बेड की की धर्मशाला निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा छात्रों के लिए एक मनोरंजन यूनिट,1 शब्दाह गृह, बायो वासट, स्टूडियो अपार्टमेंट, इलेक्ट्रिक सब स्टेशन,रूम का भी निर्माण किया जा रहा है। 

प्रतिदिन 1400 मजदूर कार्यरत (Sarairanjan Medical College)

Sarairanjan Medical College:- मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का कार्य उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के द्वारा कराया जा रहा है। एजेंसी के द्वारा 1400  मजदूरों को इस कार्य के लिए लाया गया था। इस समय करीब एक हजार मजदूर कार्य कर रहे है। कालेज एवं अस्पताल का ढांचा पूरी तरह तैयार हो चुका है, अंदर एवं बाहर से प्लास्टर का कार्य लगभग पूरा हो गया है। अस्पताल के मुख्य भवन की रंगाई-पुताई भी हो गई है। 

32 एकड़ में मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का निर्माण 

Narghoghi Medical College:- श्री राम जानकी चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल के लिए पहले 22 एकड़ जमीन ली गई थी। जिसमें कार पार्किंग और ऑडिटोरियम जोड़ दिया गया हैं। जिसके लिए 10 एकड़ जमीन अतिरिक्त ली गई है। इस तरह 32 एकड़ जमीन में इस कॉलेज का निर्माण हो रहा है। 6 नवंबर 2019 को इस मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी ने किया था। पिछले साल 14 अक्टूबर को उन्होंने निर्माण कार्य का जायजा भी लिया था। 

कॉलेज में 100 छात्र-छात्राओं का प्रतिवर्ष लिया जाएगा नामांकन

Samastipur Medical College:- बताया जाता है कि यहां प्रतिवर्ष राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा पास 100 छात्र-छात्राओं का नामांकन लिया जाएगा। इसके अलावा कॉलेज में एएनएम, जीएनएम, पारा मेडिकल व नर्सिंग पाठ्यक्रमों की भी पढ़ाई होगी। वहीं कॉलेज का शैक्षणिक भवन छह मंजिला होगा।

बिहार में नंबर 1 मेडिकल कॉलेज कौन सा है?

बिहार का नंबर 1 मेडिकल कॉलेज कौन सा है?:- AIMS पटना बिहार के सर्वश्रेष्ठ मेडिकल कॉलेजों में से एक है। नालंदा मेडिकल कॉलेज, जुल्फिकार हैदर यूनानी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, और एकेयू पटना बिहार के शीर्ष 10 मेडिकल कॉलेजों की सूची में हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)